Ayatul Kursi In Hindi | आयतुल कुर्सी हिंदी में

WhatsApp Channel Join Now
Telegram Channel Join Now

अस्सलाम अलैकुम व रहमतुल्लाह व बरकातहू: दोस्तों हम इस पोस्ट में पड़ने वाले है आयतुल कुर्सी (Ayatul Kursi In Hindi) के बारे मे, जैसे की मुझे पता है, आप लोग ज्यादातर गूगल पे इस तरह सर्च करते है – 

Ayatul Kursi In Hindi, Ayatul Kursi Hindi Mai, Ayatul Kursi Meaning In Hindi, Ayatul Kursi Hindi Tarjuma, Ayatul Kursi Tarjuma Ke Sath, Ayatul Kursi In Hindi | आयतुल कुर्सी हिंदी में, आयतुल कुर्सी इमे, आयतुल कुर्सी की फजीलत, आयतुल कुर्सी की तिलावत)

तो मैं आज आपके लिए इसकी पूरी जानकारी लाया हूँ, और अगर आपको हमारी ये पोस्ट अच्छी लगे तो इसे अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें जिससे अगर आपके दोस्त को भी Ayatul Kursi In Hindi के बारे मे नहीं पता तो,

उसे भी इसका इल्म होगा इससे आपको भी सवाब मिलेगा और साथ हि मुझे भी। और अगर आपको हमारा काम अच्छा लगता है तो हमें Subscribe भी जरूर कर लेँ जिससे आपको Notification मिलती रहें…

Ayatul Kursi In Hindi | आयतुल कुर्सी हिन्दी मे

सूरह का नाम सूरह नंबर
आयतुल कुर्सीसूरा नंबर 2 अल-बक़रा की आयत नंबर 255
Ayatul Kursi In Hindi | आयतुल कुर्सी हिंदी में
– Ayatul Kursi In Hindi | आयतुल कुर्सी हिंदी में –

Note: किसी भी दुआ को पढ़ने से पहले अऊज़ुबिल्लाही मिनाश सैतानिर्रजिम बिस्मिल्लाह हिर्रहमा निर्रहीम पढ़े उसके बाद ही दुआ पढ़े।

Ayatul Kursi Hindi Mai मे इस तरह है –

  • अल्लाहु ला इलाहा इल्लाहू अल
  • हय्युल क़य्यूम
  • ला तअ’खुज़ुहू सिनतुव वला नौम
  • लहू मा फिस सामावाति वमा फ़िल अर्ज़
  • मन ज़ल लज़ी यश फ़ऊ इन्दहू इल्ला बि इजनिह
  • यअलमु मा बैना अयदी हिम वमा खल्फहुम
  • वला युहीतूना बिशय इम मिन इल्मिही इल्ला बिमा शा अ
  • वसिअ कुरसिय्यु हुस समावति वल अर्ज़
  • वला यऊ दुहू हिफ्ज़ुहुमा
  • वहुवल अलिय्युल अज़ीम

यह भी पड़ें – Dua E Qunoot In Hindi | जानिए दुआ ए कुनूत हिन्दी मे

Ayatul Kursi In English | आयतुल कुर्सी इंग्लिश मे

Ayatul Kursi In Hindi | आयतुल कुर्सी हिंदी में
– Ayatul Kursi In English | आयतुल कुर्सी इंग्लिश मे –

Note: किसी भी दुआ को पढ़ने से पहले अऊज़ुबिल्लाही मिनाश सैतानिर्रजिम बिस्मिल्लाह हिर्रहमा निर्रहीम पढ़े, अगर आप पढ़ चुके है तो आप सिर्फ बिस्मिल्लाह हिर्रहमा निर्रहीम पढ़े उसके बाद ही दुआ पढ़े।

दोस्तों Ayatul Kursi In English मे इस तरह है –

  • Allāhu lā ilāhā illāhū al.
  • Hayyula qayyū ma.
  • Lā ta’a’khuzuhū sinatuva valā nauma.
  • Lahū mā phisa sāmāvāti vamā fil arzi.
  • Man zal lazī yaśh fa’ū indahū illā bi ijaniha.
  • Ya’alamu mā bainā ayadī hima vamā khalphahuma.
  • Valā yuhītūnā biśaiy im min ilmihī illā bimā śā A.
  • Vasi’a kurasiyyu husa samāvati val arz.
  • Valā ya’ū duhū hiphzuhumā vahuval aliyyul azīma.

जानिए सूरह मुल्क पढ़ने के फायदे क्लिक करे और पड़ें सूरह मुल्क हिन्दी मे

Ayatul Kursi In Arabic | आयतुल कुर्सी अरबी मे

Ayatul Kursi In Hindi | आयतुल कुर्सी हिंदी में
– Ayatul Kursi In Arabic | आयतुल कुर्सी अरबी मे –

Note: किसी भी दुआ को पढ़ने से पहले अऊज़ुबिल्लाही मिनाश सैतानिर्रजिम बिस्मिल्लाह हिर्रहमा निर्रहीम पढ़े, अगर आप पढ़ चुके है तो आप सिर्फ बिस्मिल्लाह हिर्रहमा निर्रहीम पढ़े उसके बाद ही दुआ पढ़े।

दोस्तों Ayatul Kursi In Arabic मे इस तरह है –

اللَّـهُ لَا إِلَـٰهَ إِلَّا هُوَ الْحَيُّ الْقَيُّومُ ۚ لَا تَأْخُذُهُ سِنَةٌ وَلَا نَوْمٌ ۚ لَّهُ مَا فِي السَّمَاوَاتِ وَمَا فِي الْأَرْضِ ۗ مَن ذَا الَّذِي يَشْفَعُ عِندَهُ إِلَّا بِإِذْنِهِ ۚ يَعْلَمُ مَا بَيْنَ أَيْدِيهِمْ وَمَا خَلْفَهُمْ ۖ وَلَا يُحِيطُونَ بِشَيْءٍ مِّنْ عِلْمِهِ إِلَّا بِمَا شَاءَ ۚ وَسِعَ كُرْسِيُّهُ السَّمَاوَاتِ وَالْأَرْضَ ۖ وَلَا يَئُودُهُ حِفْظُهُمَا ۚ وَهُوَ الْعَلِيُّ الْعَظِيمُ

यह भी पड़ें –

Ayatul Kursi Meaning In Hindi | आयतुल कुर्सी का हिन्दी तर्जुमा

दोस्तों Ayatul Kursi In Hindi का तर्जुमा इस तरह है –

  • अल्लाह के सिवा कोई माबूद नहीं
  • अल्लाह हि हमेशा जिंदा और बाकी रहने वाले है।
  • न उसको ऊंघ आती है न नींद
  • जो भी आसमानों पर है और जो भी ज़मीन पर है सब अल्लाह का है।
  • कौन है जो बिना अल्लाह कि इजाज़त के उसकी सिफारिश कर सके।
  • अल्लाह उन्हे भी जानते है जो मख्लूकात के सामने है और उसे भी जो उन से ओझल है।
  • बन्दे उसके इल्म का ज़रा भी इहाता नहीं कर सकते सिवाए उन बातों के इल्म के जो खुद अल्लाह देना चाहे।
  • उसकी ( हुकूमत ) की कुर्सी ज़मीन और असमान को घेरे हुए है
  • ज़मीनों आसमान की हिफाज़त उसपर दुशवार नहीं
  • वह बहुत बलंद और अज़ीम ज़ात है।

Ayatul Kursi पढ़ने के फायदे | Benefits Of Ayatul Kursi

  • Ayatul Kursi पढ़ने वाले को हमेशा जन्नत नसीब होती है।
  • आयतुल कुर्सी (Ayatul Kursi in Hindi) पढ़ने वाला हमेशा बुरी चीजों से महफूज रहता है।
  • अयातुल कुर्सी को पढ़ने से घर मे बरक्कत होती है, और सेहत अच्छी रहती है।
  • अगर घर मे आयतल कुर्सी लिखी हो तो अल्लाह उस घर को महफूज रखते है।
  • पैगंबर मुहम्मद ﷺ सलल्लाहो अलैहि वसल्लम ने फरमाया है जो शख्स फर्ज नमाज के बाद आयतुल कुर्सी पड़ेगा उसे जन्नत जाने की कोई रोक नहीं पाएगा और वो इंसान दुनिया की बुराइयों से दूर रहता है, और अल्लाह उसे बुरे कामो को करने से बचाते है और उसको नेकियों को करने की राह में बढ़ाते हैं।
  • जिस घर मे कोई शख्स अगर आयतुल कुर्सी को पड़ता है तो पढ़ने वाले को और उस घर मे रहने वालों को अल्लाह अपनी हिफाज़त मे रखते है।
  • अयातुल कुर्सी जिस घर मे पढ़ी जाती है उस घर से शैतान और बुरी चीज़े उस घर को छोड़ देती है और अल्लाह के भेजे हुए फरिश्ते रहते हैं।
  • जिसे भी अगर अपने घर या फिर काही और तनहाई मे डर लग रहा हो तो उसे आयतुल कुर्सी पढ़नी चाहिए, अल्लाह-त-लाह उस बंदे के खौफ को दूर कर देंगे और उसे सुकून आता फरमाएंगे।
  • दोस्तों अगर आप सुबह के वक्त आयतुल कुर्सी कि तिवालत करते है तो अल्लाह-त-लाह आपको पूरे दिन अपनी हिफाज़त में रखते है और आपको पूरे दिन अच्छे कामों मे व्यस्त रखते है।
  • जो इंसान शाम को अयातुल कुर्सी पढ़ले वह सुबह तक और जो सुबह को पढ़़ले वह शाम तक महफूज़ हो जाता है। सुबह होने पर हज़रत अबु हुरैरा (रज़ियल्लाहु अन्हु) ने नबी अकरम सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम से इस वाकिये का जि़क्र किया
  • अगर आप घर से निकलते वक्त अयातुल कुर्सी को पढ़ते है तो अल्लाह-त-लाह आपकी हिफाज़त के लिए अपने फरिश्तों कि जमात को आपके साथ भेजते है।
  • जो इंसान हर रोज़ अयातुल कुर्सी कि तिवालत करता है, अल्लाह उसकी मौत के वक्त उसे आसानी अता फरमाते है।
  • जब कोई इंसान अपने मरहूम के लिए आयतुल कुर्सी की तिवालत करता है, तो अल्लाह उसके मरहूमो तक नूर अता फ़रमाते हैं।
  • दोस्तों आपको बता दूँ कि अयातुल कुर्सी को सबसे ज्यादा अज़मत वाली आयत बताया गया है।
  • अयातुल कुर्सी को पढ़ने से आप शैतान से महफूज रहेंगे।
  • जो बंदा सुबह अयातुल कुर्सी पड़ेगा वो रात तक महफूज रहेगा और जो रात में पड़ेगा वो सुबह तक महफूज रहेगा।
  • अयातुल कुर्सी को पढ़ने से अल्लाह आपके बच्चों कि हिफाजत करेंगे।
  • अयातुल कुर्सी पढ़ने से आपके घर मे चोरी होने से बची रहेगी।

Conclusion

तो दोस्तों मुझे उम्मीद है की अब आपको अयातुल कुर्सी (Ayatul Kursi In Hindi) के बारे मे और आयतुल कुर्सी हिन्दी का तर्जुमा और इसकी पूरी जानकारी मिल गई होगी अगर आपको कुछ पूछना है तो हमे कमेन्ट करके या फिर हमारे सोशल मीडिया अकाउंट मे मैसेज करके पूछ सकते है, और इस पोस्ट को जरूर शेयर करे इससे हमे बहुत खुशी होगी,

और हमारी वेबसाईट Deengyaan.in पर आते रहे, इंशा अल्लाह इसी तरह की इनफार्मेशन मै आप तक पहुचता रहूँगा, अल्लाह हमारे और आपके गुनाहों को माफ फरमाए और हमे इस्लाम कि हर चोटी से बड़ी छीजे सीखने की हिदायत फरमाए, अस्सलाम अलैकुम व रहमतुल्लाह व बरकातहू। FACEBOOKTWITTERINSTAGRAM

Ayatul Kursi से जुड़े सवाल जवाब – (FAQs)

Q. आयतुल कुर्सी कौन से पारे मे है ?

Ans. दोस्तों आपको आयतुल कुर्सी तीसरे पारे में सुरह बकरा की 255 आयात मे मिल जाएगा।

Q. अयातुल कुर्सी दुआ है या सूरह है?

Ans. अयातुल कुरसी सूरह अल-बकराह की आयत है और कुरान मजीद कि सबसे बड़ा सूरह सूरह अल-बकराह है। इसके अलावा, सूरह अल-बकराह की आयत नंबर 255 आयत-अल-कुरसी है।

Q. आयतुल कुर्सी पढ़ने से क्या होता है?

Ans. दोस्तों इसे पढ़ने के कई सारे फायदे है जैसे कि – Ayatul Kursi जिस घर मे पढ़ी जाती है उस घर से शैतान और बुरी चीज़े उस घर को छोड़ देती है और अल्लाह के भेजे हुए फरिश्ते रहते हैं, अयातुल कुर्सी को पढ़ने से आप शैतान से महफूज रहेंगे और इसी तरह के कई फायदे है इसको पढ़ने के।

Sharing Is Caring:

Deengyaan.in में आपका खुशामदीद है, मेरा नाम है Anwaar Aslam और मै इस ब्लॉग का Founder और Writer हूँ। पिछले 3 वर्षों से मैं इस वेबसाइट के जरिए इस्लामी जानकारी Share कर रहा हूं। मेरा मकसद है सरल और आसान तरीके से इस्लाम की Knowledge को सब तक पहुंचाना है।

2 thoughts on “Ayatul Kursi In Hindi | आयतुल कुर्सी हिंदी में”

Leave a Comment