01. Surah Fatiha In Hindi | Surah AL Fatiha In Hindi

WhatsApp Channel Join Now
Telegram Channel Join Now

अस्सलाम अलैकुम व रहमतुल्लाह व बरकातहू: दोस्तों हम इस पोस्ट में पड़ने वाले है सूरह फातिहा (Surah Fatiha In Hindi) के बारे मे, जैसे की मुझे पता है, आप लोग ज्यादातर गूगल पे इस तरह सर्च करते है – 

Surah Fatiha In Hindi, Surah AL Fatiha In Hindi, Surah Fatiha Ka Tarjuma In Hindi, सूरह फातिहा क्या है, Surah Fatiha Kya Hai, Surah Fatiha Kya Hota Hai, Surah Fatiha Ka Kya Matlab Hai, सूरह फातिहा हिंदी में तर्जुमा,

तो मैं आज आपके लिए इसकी पूरी जानकारी लाया हूँ, और अगर आपको हमारी ये पोस्ट अच्छी लगे तो इसे अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें जिससे अगर आपके दोस्त को भी Surah Fatiha In Hindi के बारे मे नहीं पता तो,

उसे भी इसका इल्म होगा इससे आपको भी सवाब मिलेगा और साथ हि मुझे भी। और अगर आपको हमारा काम अच्छा लगता है तो हमें Subscribe भी जरूर कर लेँ जिससे आपको Notification मिलती रहें…

Surah Fatiha In Hindi | सूरह फातिहा हिन्दी मे

सूरह का नाम सूरह फातिहा
सूरह नंबर 01
Surah Fatiha In Hindi | Surah AL Fatiha In Hindi

सूरह फातिहा (Surah Fatiha Hindi) मेँ –

Note: किसी भी दुआ को पढ़ने से पहले अऊज़ुबिल्लाही मिनाश सैतानिर्रजिम बिस्मिल्लाह हिर्रहमा निर्रहीम पढ़े उसके बाद ही दुआ पढ़े। 

01. Surah Fatiha In Hindi | Surah AL Fatiha In Hindi
  • आल्हामदुलीलही रब्बिल आलमीन
  • अर रहमा निर रहीम
  • मलिकि यौमिद्दीन
  • इययाक न अबुदु व इय्याका नस्तईन
  • इहदिनस सिरआतल मुस्तकीम
  • सिरताल लजीना अन अमता अलय हिम
  • गैरिल मॅगडूबी अलय हिम व लद दालीन। (आमीन)

Surah Fatiha In Arabic | (सूरह फातिहा अरबी मे)

01. Surah Fatiha In Hindi | Surah AL Fatiha In Hindi

Note: किसी भी दुआ को पढ़ने से पहले अऊज़ुबिल्लाही मिनाश सैतानिर्रजिम बिस्मिल्लाह हिर्रहमा निर्रहीम पढ़े उसके बाद ही दुआ पढ़े। 

  • ٱلْحَمْدُ لِلَّهِ رَبِّ ٱلْعَٰلَمِينَ
  • ٱلرَّحْمَٰنِ ٱلرَّحِيمِ
  • مَٰلِكِ يَوْمِ ٱلدِّينِ
  • إِيَّاكَ نَعْبُدُ وَإِيَّاكَ نَسْتَعِينُ
  • ٱهْدِنَا ٱلصِّرَٰطَ ٱلْمُسْتَقِيمَ
  • صِرَٰطَ ٱلَّذِينَ أَنْعَمْتَ عَلَيْهِمْ غَيْرِ ٱلْمَغْضُوبِ عَلَيْهِمْ وَلَا ٱلضَّآلِّينَ

दोस्तों अगर आपको छः कलमा (Six Kalma In Hindi) पढ़ना है हिन्दी तर्जुमा के साथ तो आप यहा से पढ़ सकते है नीचे पोस्ट कि लिंक दी हुई है ।

पहला कलमा | दूसरा कलमा | तीसरा कलमा | चौथा कलमा | पाँचवा कलमा | छठा कलमा

Surah Fatiha In English | (सूरह फातिहा इंग्लिश मे)

01. Surah Fatiha In Hindi | Surah AL Fatiha In Hindi

Note: किसी भी दुआ को पढ़ने से पहले अऊज़ुबिल्लाही मिनाश सैतानिर्रजिम बिस्मिल्लाह हिर्रहमा निर्रहीम पढ़े उसके बाद ही दुआ पढ़े। 

  • Alhamdulliahi Rabbil Aalameen
  • Arrahmanir Raheem
  • Maliki Yaumiddeen
  • Iyyaka Nabudu Waiyyakanastain
  • Ihdinassiratal Mustaqeem
  • Siratallazina Anamta Alaihim
  • Gairil Magdubi Aalaihim Waladdwaleen (Ameen)

Surah Fatiha Tarjuma In Hindi | (सूरह फातिहा तर्जुमा हिन्दी मे)

शुरू करता हूँ अल्लाह के नाम से जो निहायत रहम वाला और बहुत मेहरबान है।

  • तमाम तरीफ़े अल्लाह ही के लिए है जो सारे जहान का मालिक है।
  • बहुत मेहरबान रहमत वाला है।
  • रोज़े जज़ा (इन्साफ के दिन) का मालिक।
  • हम आपकी ही ईबादत करते है, और आपकी ही मदद चाहते है।
  • हमे सीधा रास्ता दिखाए।
  • उन लोगों का रास्ता जिन पर आपने इनामात फरमाया है।
  • उन लोगों का रास्ता नहीं जिन पर आपका गजब नाजिल हुआ और ना उन लोगों का जो राहे हक से भटके हुए है।

Surah Fatiha का नजिल होना

“सूरह फातिहा” यह सूरह “मक्का” में उतरी, और सूरह फातिहा में 7 (सात) आयतें और एक रुकु (1 Ruqu) है।

ये मक्कए मुकर्रमा या मदीनए मुनव्वरा या दोनों जगह उतरी, अम्र बिन शर्जील का कहना है कि नबीये करीम सल्लल्लाहो अलैहे वसल्लम ने हज़रत ख़दीजा रदियल्लाहो तआला अन्हा से फ़रमाया – मैं एक पुकार सुना करता हूँ जिसमें इक़रा यानी ‘पढ़ों’ कहा जाता है।

वरक़ा बिन नोफि़ल को खबर दी गई, उन्होंने अर्ज़ किया – जब यह पुकार आए, आप इत्मीनान से सुनें, इसके बाद हज़रत जिब्रील ने खि़दमत में हाजि़र होकर अर्ज़ किया बिस्मिल्ला हिर्रहमान निर्रहीम, अल्हम्दु लिल्लाहे रब्बिल आलमीन, इसका मतलब “अल्लाह के नाम से शुरु जो बहुत मेहरबान है रहमत वाला है, जो मालिक है हमारा जिसमे सभी खूबियाँ है”।

नमाज़ में इस Surah Fatiha का पढ़ना वाजिब है (मतलब कि ज़रुरी है) इमाम साहब और अकेले नमाज़ी के लिये तो हक़ीक़त में अपनी ज़बान से, और मुक्तदी (मतलब इमाम साहब के पीछे नमाज़ पढ़ने वाले) के लिये इमाम साहब की ज़बान से।

Surah Fatiha | सूरह फातिहा की कुछ और बातें

सही हदीस में आता है इमाम साहब का पढ़ना ही उनके पीछे नमाज़ पढ़ने वालों का पढ़ना है, कुरआन शरीफ़ में इमाम साहब के पीछे पढ़ने वालों को खामोशी से जो इमाम साहब पड़ें उससे सुनने का हुक्म दिया गया है।

अल्लाह तआला फ़रमाता है, जब कोई भी शकस क़ुरआन को पड़ें तो उसे खामोशी से सुनना चाहिए। मुस्लिम शरीफ़ की हदीस मे आता है कि जब इमाम साहब क़ुरआन पढ़े, तो तुम ख़ामोश रहो और सुनो, और बहुत सारी हदीसों में भी इसी तरह की बात कही गई है।

सूरह फ़ातिहा सौ मर्तबा (100) पढ़ने के बाद जो दुआ मांगी जाए, अल्लाह तआला उसे क़ुबूल फरमाते है। – (दारमी)

बुखारी और मुस्लिम शरीफ़ में लिखा है, कि प्यारे नबी हुजू़र सल्लल्लाहो अलैहे वसल्लम और हज़रत सिद्दीक़ रज़ियल्लाहु तआला अन्हु और फ़ारूक़ रज़ियल्लाहु तआला अन्हु अपनी नमाज़ “अलहम्दोलिल्लाहेरब्बिलआलमीन “यानी सूरह फ़ातिहा की पहली आयत से शुरू करते थे।

SURAH FATIHA KI KHUBIYA | सूरह फातिहा की खूबियाँ

हदीस की किताबों में इस सूरह (Surah Fatiha In Hindi) की बहुत सी ख़ूबियाँ बयान की गई है, हमारे नबीये करीम हुजू़र सल्लल्लाहो अलैहे वसल्लम ने फरमाया है कि इस जैसी सूरह न ही तौरात मे, इंजील व जु़बूर, में नहीं उतरी हैं। – (तिरमिज़ी)

एक फ़रिश्ते ने आसमान से उतरकर नबीये करीम सल्लल्लाहो अलैहे वसल्लम पर सलाम अर्ज़ किया और दो ऐसे नूरों की ख़ूशख़बरी सुनाई जो नबीये करीम सल्लल्लाहो अलैहे वसल्लम से पहले किसी नबी को नहीं दिये गए, जो है सूरह फ़ातिहा और है सुरह बकरह की आख़िरी आयतें. – (मुस्लिम शरीफ़)

कुछ और सूरह आपके लिए –

Conclusion

तो दोस्तों मुझे उम्मीद है की अब आपको सूरह फातिहा हिंदी में (Surah Fatiha In Hindi) और सूरह फातिहा हिंदी में तर्जुमा (Surah Fatiha Ka Tarjuma In Hindi) इसकी पूरी जानकारी मिल गई होगी अगर आपको कुछ पूछना है तो हमे कमेन्ट करके या फिर हमारे सोशल मीडिया अकाउंट मे मैसेज करके पूछ सकते है,

और इस पोस्ट को जरूर शेयर करे इससे हमे बहुत खुशी होगी, और हमारी वेबसाईट Deengyaan.in पर आते रहे, इंशा अल्लाह इसी तरह की इनफार्मेशन मै आप तक पहुचता रहूँगा, अल्लाह हमारे और आपके गुनाहों को माफ फरमाए और हमे इस्लाम कि हर चोटी से बड़ी छीजे सीखने की हिदायत फरमाए, अस्सलाम अलैकुम व रहमतुल्लाह व बरकातहू। 

Surah AL Fatiha In Hindi – FAQ’s ( सवाल जवाब )

Q. सूरह फातिहा हिंदी में लिखा हुआ ?

Ans. आल्हामदुलीलही रब्बिल आलमीन, अर रहमा निर रहीम, मलिकि यौमिद्दीन, इययाक न अबुदु, व इय्याका नस्तईन, इहदिनस सिरआतल मुस्तकीम, सिरताल लजीना अन अमता अलय हिम, गैरिल मॅगडूबी अलय हिम व लद दालीन (आमीन)।

Q. Surah Fatiha Hindi Mein Bataiye?

Ans. आल्हामदुलीलही रब्बिल आलमीन, अर रहमा निर रहीम, मलिकि यौमिद्दीन, इययाक न अबुदु, व इय्याका नस्तईन, इहदिनस सिरआतल मुस्तकीम, सिरताल लजीना अन अमता अलय हिम, गैरिल मॅगडूबी अलय हिम व लद दालीन (आमीन)।

Q. सूरह फातिहा में क्या है?

Ans. इसमे सूरह में अल्लाह तआला की तारीफ़ हैं, उनकी बड़ाई, उनकी रहमत, उनका मालिक होना, उनसे इबादत, हर तरह की मदद तलब करना, दुआ मांगने का तरीक़ा, अच्छे लोगों की तरह रहने और बुरे लोगों से दूर रहने, दुनिया की ज़िन्दगी का ख़ातिमा, और अच्छाई और बुराई के हिसाब के दिन का साफ़ साफ़ बयान है।

Sharing Is Caring:

Deengyaan.in में आपका खुशामदीद है, मेरा नाम है Anwaar Aslam और मै इस ब्लॉग का Founder और Writer हूँ। पिछले 3 वर्षों से मैं इस वेबसाइट के जरिए इस्लामी जानकारी Share कर रहा हूं। मेरा मकसद है सरल और आसान तरीके से इस्लाम की Knowledge को सब तक पहुंचाना है।

Leave a Comment